images (2)

आंटी

images (2)

किसी भी शब्दकोष का
सबसे बुरा शब्द आंटी।
जिस नार को बोलो लगे
जैसे मारे कोई संटी।

जब निकले कोई नार
कर सोलह श्रृंगार।
चले जुल्फें लहराकर
लचके कमर बल खाकर।

और कह दे उसे कोई आंटी।
हाल उसका ऐसा जैसे
सरेराह कालिख पोत दी।

बचता नहीं वहां कोई
चाहें राधा हो या नंदी।
सर पर रख पाँव
सबको भागने की जल्दी।

अक्सर होता है ये भी
खुद आंटी कह दे
किसी आंटी को आंटी।
तब होता वो कोहराम
कांपने लग जाती धरती।
देखा है ये मैने
अपनी आँखों से भी।

देती हूँ सलाह
आंटी शब्द ही बुरा
दे दो इसे तिलांजली।
गला घोट दो शब्द का
या देदो इसे फांसी।

प्रौढ़ा हो या जवान
बस बोलो प्यारी दीदी।
क्या जायेगा किसी का
गर हर नार को मिले ख़ुशी।

डॉ अर्चना गुप्ता (मुरादाबाद)

5 Comments

  • Amit Agarwal commented on June 2, 2014 Reply

    Bilkul sach 🙂

  • hema commented on May 30, 2014 Reply

    kya baat hai

  • Dr.Mamta Singh commented on May 29, 2014 Reply

    Sahi kaha, aunty shabd rishto ki pahchan bhi khatam kar deta hai.

  • Saru Singhal commented on May 28, 2014 Reply

    Khoob kahan aapne!

    • Dr. Archana Gupta commented on June 5, 2014 Reply

      hahaha saru ji … sabki aik hi shikayat rhti hai … aunty kisko bola…. bas isi se prerit hoker.. pasand kerne ke liye shukriya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *