download (1)

मुक्तक (37 )

(109 ) बीता वक़्त हँसाता है बीता वक़्त रुलाता है प्यारी सी  यादें बनकर जीवन भर तड़पाता है (110 ) चाँद सितारों में बात वही सावन की  भी बरसात वही बीता वक्त हुआ बेगाना पर यादों की सौगात वही (111Read more…

images (9)

मुक्तक (36 )

(106 ) मीत  होकर भी नहीं स्वीकार करते हो क्यों हमारे प्यार का  व्यापार करते हो हम समझ पाये नहीं ये आज तक साथी क्यों भुलाने को हमें लाचार करते हो (107 ) रूप कैसे है दिखाती ज़िन्दगी भी खिलखिलातीRead more…

images (8)

मुक्तक (35 )

(१०३) आपके बन कर रहेंगे देख लेना आपके मन की कहेंगे देख लेना प्यार इतना आपसे हमने किया है दर्द भी हंसकर सहेंगे देख लेना (104 ) चाँद ये जब चाँदनी को प्यार करता है पूर्णमासी को मिलन सिंगार करताRead more…

images (7)

मुक्तक (34 )

(100) सुनो दर्द में मुस्कुराने लगे हम गजल तो कभी -गीत गाने लगे हम नया साल आया लिये आज खुशियाँ तुम्हें पा प्रिये खिलखिलाने लगे हम (101) नया साल आया चमन को सजालो जो रूठे हुये हैं उन्हें तुम मनालोRead more…

download (1)

कुण्डलिनी छंद (3 )

(7) जल में जब नौका रहे, सँभल सके  हर कोय जल यदि नौका में रहे , बचना मुश्किल होय बचना मुश्किल होय ,यही संतों की बाणी कभी न खोना होश ,काम की बड़े जवानी (8) त्रेता में सब राम थेRead more…

images (6)

मुक्तक (33 )

(97 ) दर्द में हम मुस्कुराना जानते हैं बन शमा खुद को जलाना जानते हैं लाख दुश्मन हो भले सारा ज़माना प्यार पर हम जां लुटाना जानते है (98 ) तुम्हे पलकों पर मैं बिठाऊँगा हथेली पर सरसों उगाऊँगा मिलोRead more…

images (5)

मुक्तक (32 )

(94 ) कुटिल इन्सान कब होता कुटिल तो चाल होती है बुराई देखकर इंसानियत बे हाल होती है करो तुम नेह की बर्षा पिघल जाये कुटिल मन भी भरा हो नेह दिल में तो मनुजता ढाल होती है (95 )Read more…

images (4)

मुक्तक ((31 )

(91 ) प्यार में अब गुनगुनाना चाहता है आज दिल तन्हा बिताना चाहता है ये तुम्हारी याद के लेकर सहारे इश्क़ में बस डूब जाना चाहता है (92 ) यही प्रीत बनी जीत हमें आज मिले आप सजे होंठ मधुरRead more…

images (3)

मुक्तक (30 )

(88 ) अपनों से कब अधिकार मिला दिल दर्द मिला कब प्यार मिला सोने चाँदी की दुनियाँ में बस जख्मों का उपहार मिला (89) वक्त की मार को कौन सह पाया है दर्द अपने यहाँ कौन कह पाया है तुमRead more…